Wednesday, May 29, 2024

ज्योति चावला

समकालीन हिंदी कविता एवं कहानी लेखन में ज़रूरी नाम। कविताएं व कहानियां हिंदी की प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित। पहला कविता संग्रह मां का जवान चेहरा 2013 में आधार प्रकाशन, पंचकुला से प्रकाशित। कहानी संग्रह अंधेरे की कोई शक्ल नहीं होती 2014 में आधार प्रकाशन, पंचकुला से प्रकाशित। दूसरा कविता संग्रह जैसे कोई उदास लौट जाए दरवाज़े से 2018 में वाणी प्रकाशन से प्रकाशित। 2010 में एक पुस्तक का संपादन पीपुल्स पब्लिशिंग हाउस से। आलोचना की एक पुस्तक कथा-अंतर्कथा-अंतर्पाठ 2021 में सेतु प्रकाशन से प्रकाशित।

पुरस्कार

कविता के लिए 2014 का शीला सिद्धांतकर स्मृति सम्मान

कविता के लिए 2018 शब्द साधक कविता सम्मान 2018 

अनुवाद 

विभिन्न भारतीय भाषाओं – पंजाबी, ओड़िया, अंग्रेज़ी आदि में ज्योति चावला की कहानी एवं कविताओं के अनेक अनुवाद प्रकाशित।

इन दिनों अनुवाद के उत्तर आधुनिक तथा उत्तर औपनिवेशिक विमर्श पर सक्रिय लेखन। अनुवाद अध्ययन संबंधित यह पुस्तक शीघ्र प्रकाश्य।

संप्रति: अनुवाद अध्ययन एवं प्रशिक्षण विद्यापीठ, इग्नू में सहायक प्रोफेसर के पद पर कार्यरत।

संपर्क: 9871819666, [email protected]

……………..

……………..

error: Content is protected !!